दोस्तों हम बतानेवाले हैं ऐसे खिलाडी के बारे में जिसने इतिहास रच दिया. हम बतानेवाले हैं एथलीट खिलाडी नीरज चोपड़ा के बारे में. दिनांक ७ अगस्त २०२१ एक खूशीवाला दिन था जब Neeraj Chopra भारत को 2021 ओलिंपिक का पहला गोल्ड दिलाया. भारत हमेसा से ही ओलिंपिक में गोल्ड के लिए तरस जाता है.

Neeraj Chopra

ऐसे में अगर गोल्ड मिल जाये तो भारतवासियों के लिए बहुत ही गर्व की बात है. Olympics में हर किसी देश और हर खिलाडी को मेडल जितने का सपना रहता है. भारत जैसे देश के लिए ओलम्पिक में medal जितना बहुत बड़ी बात होती है. भारत के १३० करोड़ से भी ज्यादा भारतियों के लिए खुशी का पल होता है.

Neeraj Chopra ने कर दिखाया की अगर हिम्मत और हौसला हो तो कुछ भी नामुमकिन नहीं है. Olympics gold जितने के बाद भारत के Prime Minister Shree Narendra Modiji ने फ़ोन करके बधाई दी और खिलाडी हौसला अफजाई की. देश के लोगो ने Neeraj Chopra को बधाईयां दी.

नीरज चोपड़ा ने Olympics में गोल्ड मेडल जीतकर उन खिलाडियों के लिए प्रेरड़ादायक बन गए जो खेल में देश के लिए कुछ करने सपना सजाएं रखे हैं. २०२१ में लोगो ने गोल्ड के लिए एक उम्मीद लगा रखी थी जिसे इस खिलाडी ने पूरा दिखाया. इससे Olympics में भारत की तरफ से खेलनेवाले खिलाडियों का मेडल जितने के लिए और भी मनोबल ऊँचा होगा.

भारत हमेसा ही क्रिकेट, हॉकी, बैडमिंटन, कबड्डी, कुश्ती और निशानेबाजी के खिलाडियों के लिए प्रसिद्ध है. लेकिन नीरज चोपड़ा ने इससे अलग ट्रैक पे और भी दूसरे खेलों में खिलाडियों आगे का रास्ता दिखा दिया है.

Neeraj Chopra कौन हैं?

Neeraj Chopra kahani in hindi

नीरज चोपड़ा पानीपत से ताल्लुख रखनेवाले हैं पानीपत जन्मभूमि है. पानीपत से भाला फेकते हुए ओलिंपिक तक का सफर तय किया और भारत जैसे बड़े देश को Olympics का Gold दिलाया.

Neeraj Chopra ने २०१८ में जकार्ता एशियाई खेलों में 88.06 मीटर दूर भाला फेक के गोल्ड मेडल जीता था.

उन्होंने २०१८ के राष्ट्रमंडल खेलों में भी Gold मेडल जीता था. २०१६ IAAF विश्व U20 चैंपियन बने थे उस समय उन्होंने 86.48 मीटर दूर भाला फेक के जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम किया था.